पाठ्य पुस्तक निगम टेंडर पर भाजपा का बयान झूठा भ्रामक -कांग्रेस

BJP's statement on Text Book Corporation tender is false and misleading - Congress

रायपुर(mediasaheb.com)| भाजपा महामंत्री ओपी चौधरी के द्वारा पाठ्यपुस्तक निगम के टेंडर के संबंध में दिया गया बयान झूठा भ्रामक और जानबूझकर सरकार की छवि खराब करने वाला है। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपा नेता गलत बयानी कर रहे कि निगम के पेपर खरीदी का टेंडर एक ही लेपटॉप और एक ही जगह से भरा गया है जबकि चारों ही कंपनियों के द्वारा भरे गये टेंडर के आईपी एड्रेस अलग-अलग है, साथ ही चारों के लोकेशन भी अलग-अलग दिल्ली, गुजरात, उत्तर प्रदेश तथा दिल्ली है। इस तरह के चारों टेंडर एक ही लेपटॉप से भरा गया ऐसा कहना पूरी तरह से गलत और मनगढ़त है।
प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि ओपी चौधरी आईएएस अधिकारी रहे है तथा इंजिनियरिंग के छात्र रहे है लंबे समय तक प्रशासनिक कामों का उनका अनुभव रहा है यदि वह कोई बयान दे रहे है तो उसके तथ्यों के बारे में गलत जानकारी उनकी तथ्यों की कम समझ नहीं अपितु उनके द्वारा जानबूझकर तथ्यों के बारे में झूठ बोल कर गलत आरोप लगाये गये है। ओपी चौधरी टेंडर प्रक्रिया के बारे में जानते है, समझते है यदि चारों टेंडर के कम्प्यूटर के आईपी एड्रेस अलग-अलग है तथा उसी लोकेशन भी अलग-अलग राज्यों की है तब उनका एक ही घंटे में चार अलग-अलग राज्यों से भरा जाना कैसे संभव है? अर्थात उनके आरोप गलत है।
प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि नौकर शाह रहते हुये ओपी चौधरी को घोटाले करने का पुराना अनुभव रहा है जांजगीर जिला पंचायत सीईओ, दंतेवाड़ा एवं रायपुर कलेक्टर रहने के दौरान जो व्यक्ति उसकी ठेका कंपनी उपकृत होती रही उसी ठेका कंपनी के द्वारा बायंग में उनके मकान का निर्माण किया जाना संयोग है या प्रयोग इसकी जानकारी उनको छत्तीसगढ़ की जनता को देना चाहिये।