छत्तीसगढ़ में निर्भय होकर दुष्कर्म, भूपेश यही बदलाव लाये हैं- विष्णुदेव

BJP Kisan Morcha shedding crocodile tears in the matter of fertilizer seeds

रायपुर(mediasaheb.com)। छत्तीसगढ़ प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने जांजगीर जिले मेंअकलतरा इलाके में निर्भया कांड की तर्ज पर अधेड़ के साथ दुष्कर्म और हत्या की वारदात पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए सरकार पर जमकर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि ‘वक्त है बदलाव का’ नारा लगाने वाले भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ में यही बदलाव किया है।निर्भय होकर पूरे प्रदेश में बलात्कार, हत्या, लूट, चोरी डकैती। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का सारा ध्यान अपने दिल्ली दरबार की चापलूसी और बदलापुर की राजनीति में लगा रहता है। वे अपने चहेते अफसरों और वसूली एजेंटों के लिए तो इतने फिक्रमंद हैं कि उनके भ्रष्टाचार उजागर न हों, इसके लिए आईटी, ईडी और सीबीआई का विरोध करते हैं, चहेती अफसर को बचाने के लिए अभेद्य सुरक्षा कवच का इंतजाम करना अपना परम कर्तव्य समझते हैं और दूसरी तरफ महिलाओं की अस्मत लुट रही है, हत्या की जा रही है, फूल सी बच्चियों के साथ बलात्कार हो रहा है। मातृशक्ति न बाहर सुरक्षित है और न ही अपने घर में सुरक्षित है। घर में घुसकर बलात्कार और नृशंस हत्या हो रही है। छत्तीसगढ़ में अपराधी नंगा नाच कर रहे हैं। राज्य अपराधगढ़ में तब्दील हो गया है। कानून व्यवस्था दम तोड़ चुकी है। इस तरफ देखने की फुर्सत भूपेश बघेल को नही है। मुख्यमंत्री राजनीतिक विरोधियों को प्रताड़ित करने की फिराक में रहते हैं। इन दिनों उनकी राजनीतिक उदयपुर में हुई हत्या के विरोध को कुचलने की कोशिशों पर केंद्रित है। लेकिन उनका जो मूल काम है, वह न वे कर रहे और न अपने गृह मंत्री को करने दे रहे। राज्य में कानून व्यवस्था की जिम्मेदारी सरकार की है लेकिन इस सरकार ने कानून व्यवस्था को खूंटी पर टांग दिया है। अपराधी तत्वों पर कानून का जरा सा भी भय नहीं रह गया है।
प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कहा कि जिस दिन से छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनी है, उसी दिन से अराजक तत्वों का बोलबाला बढ़ गया है। हद तो यह है कि सरकारी अफसर तक दुष्कर्म के आरोपी के तौर पर सामने आ रहे हैं। जिस प्रदेश का मुखिया भ्रष्टाचार के संरक्षण और भ्रष्टाचारियों को बचाने में लगा रहता हो, उस प्रदेश को कौन बचा सकता है। इस सरकार में माताएं, बहनें और बेटियां सुरक्षित नहीं हैं। भूपेश बघेल सरकार के पाप का घड़ा भर गया है और इसका फूटना तय है।