हिंदुओं के तीज त्यौहार के समय मोदी सरकार ट्रेनों को रद्द कर दी मौन क्यों है भाजपा के सांसद

Dr. Raman Singh is exposing the corruption of his tenure

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव हिम्मत दिखाये मोदी सरकार को पत्र लिखकर रद्द ट्रेन तत्काल शुरू कराये

रायपुर(mediasaheb.com)। छत्तीसगढ़ से फिर 66 ट्रेनों को बंद किए जाने पर नाराजगी जाहिर करते हुए प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि हिंदुओं के तीज त्यौहार के समय ही मोदी भाजपा की सरकार छत्तीसगढ़ में चलने वाले एक्सप्रेस सुपरफास्ट एक्सप्रेस और लोकल ट्रेनों को रद्द कर देती है यह घटना बीते  आठ माह से चल रहे हैं। तीजा पोरा के समय 68 ट्रेनों को रद्द किया गया था। जिसका परिचालन शुरू हुआ ही नहीं है अब पितृपक्ष,नवरात्रि पर्व और दशहरा के समय नजदीक आते ही एक बार फिर 66 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है। बीते 8 माह में लगभग 500 से अधिक ट्रेनों को रद्द किया गया है जिसके चलते ट्रेन में यात्रा करने वाली जनता को परेशानी का सामना करना पड़ा है।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव से पूछा मोदी सरकार हिंदुओं के तीज त्यौहार के समय ही ट्रेनों को रद्द क्यों कर रही है? रद्द की गई ट्रेनों को शुरू कराने के लिए पत्र लिखेंगे?क्या आपके पत्र से मोदी सरकार डरेगी घबरायेगी और रद्द ट्रेनों को शुरू करेगी? या आपके पत्र को डस्टबिन में फेंक देगी? भाजपा को प्रदेश की जनता ने 9 सांसद दिए हैं और 9 सांसदों की हिम्मत नहीं है कि ट्रेन बंद होने पर वह जनता की आवाज उठा सके और ट्रेन को शुरू करा सके।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि अचानक से 66 ट्रेनों को रद्द करने से उन लोगों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ेगा जो महीनों पहले पितृ पक्ष में पूर्वजों को मोक्ष दिलाने के लिए बनारस इलाहाबाद और गया जी की यात्रा में आने जाने का टिकट कराये थे।जिन्होंने नवरात्रि पर्व एवं दशहरा घर जाने एवं म जवारा कार्यक्रम और देवी दर्शन के लिए जाने का कार्यक्रम बनाया है।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि अचानक से ट्रेन रद्द करने पर मोदी सरकार के द्वारा दी जा रही दलील जनता को हजम नहीं हो रही है जिन पटरियों पर मालगाड़ी हजारों टन कोयला लेकर फर्राटे से दौड़ रही है उसी पटरी पर यात्री ट्रेनों को चलने से क्यों रोका जा रहा है ?और मेंटेनेंस का बहाना किया जा रहा है आजादी के बाद पहली बार देश की जनता को तीज त्यौहार के वक्त ट्रेन नहीं मिल पा रहा है मोदी सरकार की मुनाफाखोरी और अडानी प्रेम के चलते प्रदेश की जनता ट्रेन यात्रा से वंचित हो रही है।