ट्रम्प और प्रतिपक्ष के बीच समझौता नहीं, आंशिक रूप से ठप रहेगा संघीय प्रशासन

वाशिंगटन ( media saheb) राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को दीवार निर्माण के लिए अपेक्षित फंड के प्रस्ताव पर डेमोक्रेटिक प्रतिनिधियों से बुधवार को दो टूक जवाब मिलने से फिर निराशा हाथ लगी। नतीजा है कि गतिरोध बना रहेगा और संघीय प्रशासन के कामकाज आंशिक रूप से बंद रहेंगे।

विदित हो कि विगत 22 दिसंबर से प्रशासनिक कामकाज आंशिक रूप से ठप रहने से टॉयलेट तक की सफाई नहीं हो रही है और जगह-जगह कूड़े दान भरे पड़े हैं। कुछ राष्ट्रीय पार्क बंद कर दिए गए हैं, जबकि कुछ की हालत खराब हो रही है। उल्लेखनीय है कि डोनाल्ड ट्रम्प ने दीवार निर्माण के मुद्दे पर कांग्रेस की प्रतिनिधि सभा की डेमोक्रेट नेता नैंसी पेलोसी तथा सीनेट में अल्पसंख्यक दल के नेता चुक शुमर को विचार-विमर्श के लिए आमंत्रित किया था।

पेलोसी गुरुवार को प्रतिनिधि सभा की स्पीकर के रूप में शपथ लेंगी। ट्रम्प और डेमोक्रेटिक पार्टी के नेता, दोनों ही अपनी अपनी बातों पर अड़े हुए हैं। ट्रम्प ने कहा कि वह वित्त प्रस्ताव पर तब तक हस्ताक्षर नहीं करेंगे, जब तक दीवार निर्माण के लिए पांच अरब डॉलर पर सहमति नहीं बनेगी। इस गतिरोध के कारण प्रशासन के विभिन्न विभागों के करीब आठ लाख कर्मचारियों के सामने रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो गया है। अमेरिकी कांग्रेस की प्रतिनिधि सभा में डेमोक्रेटिक पार्टी का बहुमत है, तो सीनेट में रिपब्लिकन पार्टी बहुमत में हैं।

एक वित्त विधेयक को पारित करने के लिए न्यूनतम 60 प्रतिशत मत की जरूरत है। डेमोक्रेटिक पार्टी की नेता और गुरुवार को प्रतिनिधि सभा में सभापति के पद पर आसीन होने वाली नैंसी पेलोसी ने बुधवार को कहा है कि उनकी पार्टी प्रशासनिक गतिविधियों को सुचारू रूप से चलाने के लिए गंभीर है। वह इस कोशिश में हैं कि राष्ट्रपति को दीवार निर्माण के लिए अपेक्षित फंड भी नहीं दिया जाए और प्रशासन कार्यों को ठप होने से बचा लिया जाए।

सीनेट में रिपब्लिकन पार्टी के बहुमत दल के नेता मिच मेक्नोल ने कहा है कि प्रतिनिधि सभा से कोई वित्त प्रस्ताव आता भी तो वह स्वीकार नहीं करेंगे, क्योंकि राष्ट्रपति ऐसे किसी प्रस्ताव पर अपने हस्ताक्षर ही नहीं करेंगे, जिसमें दीवार निर्माण के लिए अपेक्षित फंड पर सहमति नहीं होगी। (हि.स.)

Leave a Reply

Your email address will not be published.