एसईसीएल मुख्यालय के सेवानिवृत्त कर्मियों की भावभीनी विदाई

Emotional farewell of retired personnel of SECL Headquarters

बिलासपुर(mediasaheb.com) | एसईसीएल मुख्यालय बिलासपुर से 30.06.2022 को 17 अधिकारी-कर्मचारी सेवानिवृत्त हुए। मुख्यालय प्रशासनिक भवन के सीएमडी सभाकक्ष में निदेशक तकनीकी संचालन सह कार्मिक श्री एम.के. प्रसाद, महाप्रबंधक (कार्मिक/प्रशासन) श्री ए.के. सक्सेना, विभिन्न विभागाध्यक्षों, अधिकारियों-कर्मचारियों, श्रमसंघ प्रतिनिधियों की मौजूदगी में श्री बी.पी. साहू मुख्य प्रबंधक (सिविल), श्री एम. शिवा कुमार मुख्य प्रबंधक (सिविल), श्री मो0 शमीम अख्तर मुख्य प्रबंधक (एमएम), श्री रघु मेनन वरिष्ठ प्रबंधक (सचिवीय) निदेशक कार्मिक सचिवालय, श्री प्रभात कुमार कुमार प्रबंधक (सचिवीय/राजभाषा/प्रशासन), श्री दिनेश कुमार साहू सब आर्डिनेट इंजिनियर (सिविल), श्री राकेश पुराणिक सब आर्डिनेट इंजीनियर (सिविल), श्री जी.एस. खान कार्यालय अधीक्षक (एनईई/प्रशासन विभाग), श्री प्रदीप कुमार सेन वरिष्ठ हिन्दी अनुवादक मासंवि, श्री अभिजीत बिस्वास लेखापाल आंतरिक अंकेक्षण विभाग, श्री सुखसागर सोनी एसएसए नगर प्रशासन विभाग, श्री प्रमिल कुमार साहा कॉस्ट एकाउंट (वित्त विभाग), चंम्पा भट्टाचार्यजी कार्यालय अधीक्षक (अधिकारी स्थापना विभाग), श्री अशोक कुमार तिवारी मैकेनिकल फिटर परिवहन विभाग, श्रीमती उर्मिला वर्मा लिपिक ग्रेड-।।। (कोटि नियंत्रण विभाग) को शाल, श्रीफल, पुष्पहार से सम्मानित कर समस्त भुगतान का चेक प्रदान कर विदाई दी गयी। आज दिनांक को श्री राजेन्द्रनाथ तिवारी कार्यालय अधीक्षक (सीईआरएल/सीडब्ल्यूआरएल), रायपुर एवं श्रीमती पद्मा नायर चीफ लेब टेक्नीशियन, इंदिरा विहार स्वास्थ्य केन्द्र भी सेवानिवृत्त हुए।

निदेशक तकनीकी संचालन सह कार्मिक श्री एम.के. प्रसाद ने अपने उद्बोधन में कहा कि काम है तो नाम है तभी आपकी पहचान है। सेवानिवृत्त अधिकारी-कर्मचारी अपने ज्ञान व अनुभव से सदैव कम्पनी को लाभान्वित किया तथा अपने कार्यस्थल में स्वस्थ्य एवं निष्पक्ष कार्यदशाएँ कायम कर आपसी सामंजस्य एवं सहयोग से कार्य सम्पादित किया। अंत में उन्होंने सेवानिवृत्त कर्मियों के सपरिवार उज्जवल भविष्य की ईश्वर से कामना की। इस अवसर पर सेवानिवृत्त अधिकारियों-कर्मचारियों ने कम्पनी के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा कि यहॉं के कर्मचारियों में कार्य के प्रति बहुत ही निष्ठा है। यहाँ के अधिकारी-कर्मचारी कंधे से कंधा मिलाकर साथ में कार्य करते हैं एवं किसी कार्य को बोझ समझकर नहीं करते हैं।
कार्यक्रम के प्रारंभ में सेवानिवृत्त कर्मियों का जीवन परिचय पढ़ते हुए सफलतापूर्वक उद्घोषणा का दायित्व श्रीमती सविता निर्मलकर उप प्रबंधक (राजभाषा) ने निभाया।