स्वस्थ जीवनशैली अपनाकर मधुमेह से मिल सकता है छुटकारा : डॉ. श्रीवास्तव

Diabetes can be got rid of by adopting a healthy lifestyle: Dr. Srivastava

बिलासपुर / रायपुर (mediasaheb.com) । सुपोषित आहार तथा शारीरिक सक्रियता के माध्यम से मधुमेह रोग या डायबिटीज बीमारी से बचा जा सकता है। साथ ही साथ नियमित व्यायाम, योग के जरिए इस बीमारी पर नियंत्रण पा सकते हैं। इस विषय में जन जागरुकता का प्रसार करने के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा विश्व मधुमेह दिवस 14 नवम्बर के अवसर पर विविध कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। जिला चिकित्सालय तथा ब्लॉक स्तर पर निःशुल्क मधुमेह जागरुकता कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा जिसमें मधुमेह रोग संबंधी जांच की जाएगी। इसके अलावा चिकित्सकों द्वारा उचित परामर्श भी प्रदान किया जाएगा।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग का मानना है कि मधुमेह रोग से ग्रसित रोगियों की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है । इसके अनुसार साल 2030 तक विश्व में मधुमेह रोगियों की संख्या लगभग 36 करोड़ तक पहुंच सकती है जो चिंता का विषय है। इसलिए मधुमेह रोग पर नियंत्रण के लिए हर स्तर पर प्रयास करना आवश्यक है। इसी कड़ी में जिला एवं विकासखंड स्तर पर जन जागरुकता कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। इस संबंध में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. अनिल श्रीवास्तव ने बताया कि “अनियमित जीवन शैली और भागमभाग भरी दिनचर्या की वजह से गैर संचारी रोगों जैसे मधुमेह के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। इस बीमारी की रोकथाम करना जरूरी है। पहले यह बीमारी उम्रदराज लोगों को हुआ करती थी, परंतु आज अनियमित जीवनशैली की वजह से छोटे बच्चे भी इस बीमारी की चपेट में आ रहे हैं। इसलिए 30 उम्र के बाद हर व्यक्ति को शुगर की नियमित जांच करानी चाहिए। मधुमेह मरीजों की संख्या पर रोकथाम के लिए विश्व मधुमेह दिवस के अवसर पर निःशुल्क मधुमेह जागरुकता कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। कार्यक्रम में निःशुल्क जांच एवं परामर्श की सुविधा दी जाएगी। साथ ही मधुमेह, फास्टिंग/पीपी शुगर, हाई ब्लड प्रेशर, कोलेस्ट्रॉल की जांच की जाएगी।“

यह लक्षण दिखे तो फौरन करें चिकित्सक से संपर्क

थोड़ी-थोड़ी देर में या जल्दी-जल्दी पेशाब आना, वजन का तेजी से घटना, प्यास बहुत लगना, कमजोरी अथवा थकान महसूस होना आदि मधुमेह के प्रमुख लक्षण होते हैं। यह लक्षण दिखने पर फौरन चिकित्सक से संपर्क करना चाहिए।

ऐसे कर सकते हैं बचाव

मधुमेह या डायबिटीज से बचने के लिए पोषक तत्वों से युक्त भोजन करते हुए नियमित रूप से व्यायाम करना चाहिए। सिगरेट, तम्बाकू, शराब या अन्य किसी भी तरह के मादक पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए। शरीर के वजन को संतुलन बनाए रखना आवश्यक होता है। साथ ही शरीर के वजन को संतुलित रखना जरूरी है।

मधुमेह से रोकथाम

मधुमेह की रोकथाम के लिए रक्तचाप या ब्लड प्रेशर को स्थिर बनाए रखना जरूरी है। नियमित अंतराल पर रक्त शर्करा या खून में मधुमेह के स्तर को भी मापना चाहिए और इसे सामान्य स्तर पर रखना चाहिए। इसके अलावा वजन पर नियंत्रण, आंख की जांच नियमित रूप से करानी चाहिए।(हि.स.)