जॉब में बढ़ोतरी के दम पर मैन्युफैक्चरिंग में तेजी, 14 महीनों की ऊंचाई पर पीएमआई

नई दिल्ली, (mediasaheb.com) सरकार के लिए मैन्‍युफैक्‍चरिंग सेक्‍टर एक अच्‍छी खबर शुक्रवार को लेकर आई है| मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में तेजी का दौर लगातार जारी है| फरवरी महीने में देश का मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर 14 महीनों की ऊंचाई पर जा पहुंचा है| बिक्री, उत्पादन और रोजगार में हुई बढ़ोतरी के दम पर निक्केई इंडिया मैन्युफैक्चरिंग पर्चेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स फरवरी महीने में 54.3 के स्तर पर जा पहुंचा है, जो जनवरी में 53.9 था| कारोबारी स्थितियों में हुए जबरदस्त सुधार की वजह से इंडेक्स में तेजी आई है|

दिसंबर 2017 के बाद करोबारी स्थिति में हुआ सुधार

गौरतलब है कि लगातार 19वें महीने पीएमआई इंडेक्स 50 प्वाइंट के ऊपर रहा है| पीएमआई इंडेक्स के 50 प्वाइंट से ऊपर रहने का मतलब क्षेत्र में विस्तार है, जबकि इससे नीचे होने का मतलब संकुचन होता है| एक सर्वे के मुताबिक दिसंबर 2017 के बाद से कारोबारी स्थिति में मजबूत सुधार हुआ है, जिसका असर फरवरी के डेटा में देखने को मिला है|

अप्रैल में होगी आरबीआई की अगली मौद्रिक समीक्षा बैठक

एक्‍सपर्ट के मुताबिक महंगाई में आई कमी की वजह से भारतीय रिजर्व बैंक आने वाले दिनों में ज्यादा नरम मौद्रिक रुख अख्तियार कर सकता है| आरबीआई की अगली मौद्रिक समीक्षा बैठक 2-4 अप्रैल को होनी है|

जीडीपी के पूर्वानुमान में कमी आने के संकेत

इसके साथ ही आईएचएस मार्किट ने वित्त वर्ष 2019 के लिए जीडीपी पूर्वानुमान को 7.1 फीसदी से घटाकर 7 फीसदी कर दिया है|गौरतलब है कि चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में भारत की अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर 6.6 फीसदी रही है| उधर, ख्यिकी कार्यालय ने इसके साथ ही वित्त वर्ष 2019 के लिए जीडीपी पूर्वानुमान को 7.2 फीसदी से घटाकर 7 फीसदी कर दिया है|(हि स)।

Leave a Reply

Your email address will not be published.