कारोबारी सप्ताह में सेंसेक्स 192 अंकों तक उछला

-3.43 फीसदी उछली स्मॉल कैप कंपनियां

आईपीओ इंडेक्स में भी तेजी

मुनाफे में रहीं कैपिटल गुड्स कंपनियां

कोल इंडिया को मुनाफा

एयरटेल को नुकसान

मुंबई, (mediasaheb.com) यह कारोबारी सप्ताह शेयर बाजार के लिए मिला-जुला रुझानों वाला रहा। 25 फरवरी, 2019 से 1 मार्च, 2019 के कारोबारी साप्ताहिक समीक्षा के दौरान एसएंडपी बीएसई सेंसेक्स में 192.33 अंक यानी 0.54 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज हुई। एसएंडपी बीएसई सेंसेक्स गत सप्ताह 35,871.48 अंकों पर बंद हुआ था, जबकि इस शुक्रवार को सेंसेक्स 36,063.81 अंकों पर बंद हुआ।

सप्ताह के प्रारंभ में सोमवार (25 फरवरी, 2019) को बीएसई सेंसेक्स ने 35,983.80 अंकों के साथ ओपनिंग की और बुधवार (27 फरवरी, 2019) को 36,371.11 अंकों का उच्च स्तर बनाया, जबकि सेंसेक्स में मंगलवार (26 फरवरी, 2019) को 35,714.16 अंकों की निम्नस्तर तक की गिरावट देखी गई।

ब्रॉड बेस्ड इंडेक्स में कारोबारी समीक्षा के दौरान एसएंडपी बीएसई- मिडकैप सूचकांक में 2.35 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज हुई। एसएंडपी बीएसई-स्मॉल कैप सूचकांक में 3.43 प्रतिशत की सबसे ज्यादा उछाल आई। इसके साथ ही एसएंडपी बीएसई- 100 सूचकांक की कंपनियों ने भी 0.92 प्रतिशत की सबसे कम बढ़त बनाई और एसएंडपी बीएसई- 200 सूचकांक में 1.08 प्रतिशत और एसएंडपी बीएसई- 500 सूचकांक की कंपनियां 1.29 प्रतिशत बढ़ीं।

कारोबारी सप्ताह के दौरान एसएंडपी बीएसई आईपीओ इंडेक्स में भी 2.65 प्रतिशत की भारी बढ़ोतरी दर्ज की गई। इसके मुकाबले एसएंडपी बीएसई एसएमई आईपीओ इंडेक्स केवल 0.52 प्रतिशत ही बढ़ा। एसएंडपी बीएसई कार्बनएक्स इंडेक्स भी केवल 0.94 प्रतिशत और एसएंडपी बीएसई ग्रीनएक्स इंडेक्स 0.76 प्रतिशत तक की उछाल हासिल कर पाए।

रान बढ़ने वाले सूचकांकों में सबसे ज्यादा उछाल कैपिटल गुड्स की कंपनियों में देखा गया। बैंकेक्स और एफएमसीजी इंडेक्स में सबसे कम कारोबारी रुझान रहा।

कैपिटल गुड्स में 3.01 प्रतिशत की उछाल रही। पीएसयू सेक्टर की कंपनियों ने भी 2.87 प्रतिशत की भारी बढ़त दर्ज की। मेटल सेक्टर की कंपनियां 2.49 प्रतिशत, हेल्थकेयर सेक्टर की कंपनियां 2.22 प्रतिशत, ऑयल ऐंड गैस सेक्टर की कंपनियां 2.22 प्रतिशत, पॉवर सेक्टर की कंपनियां 1.92 प्रतिशत, ऑटो सेक्टर की कंपनियां 1.71 प्रतिशत, आईटी सेक्टर की कंपनियां 1.65 प्रतिशत, टेक सेक्टर की कंपनियां 1.41 प्रतिशत, कंज्यूमर ड्युरेबल्स सेक्टर की कंपनियां 1.02 प्रतिशत, बैंकेक्स सेक्टर 0.76 प्रतिशत और एफएमसीजी सेक्टर की कंपनियां 0.59 प्रतिशत की बढ़त बनाने में सफल रहीं। इस सप्ताह रियल्टी सेक्टर की कंपनियों में 1.19 प्रतिशत की सबसे ज्यादा नुकसान देखा गया है। येस बैंक (6.51 प्रतिशत), सन फॉर्मा (3.98 प्रतिशत), इंडसइंड बैंक (3.49 प्रतिशत) और टीसीएस (3.3 प्रतिशत) शामिल रही हैं।

एसएंडपी बीएसई सेंसेक्स में शामिल कंपनियों में सबसे ज्यादा नुकसान जिन 5 कंपनियों को हुआ है, उनमें भारती एयरटेल (1.94 प्रतिशत), हिंदुस्तान यूनीलिवर (1.89 प्रतिशत), एचडीएफसी (1.38 प्रतिशत), कोटक महिंद्रा बैंक (1.18 प्रतिशत) और एचसीएल (0.98 प्रतिशत) हैं।(हि.स.)।

Leave a Reply

Your email address will not be published.