ईडी ने वीडियोकॉन लोन मामले में चंदा कोचर व वेणुगोपाल धूत के ठिकानों पर मारे छापे

नई दिल्‍ल्री, (mediasaheb.com) प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने चंदा कोचर और वेणुगोपाल धूत के पांच ऑफिसों और घरों पर शुक्रवार को छाप मारा| ईडी ने मुंबई के अलावा कुछ अन्य जगहों पर भी दबिश दी है| साल 2012 में आईसीआईसीआई बैंक की ओर से वीडियोकॉन को दिए गए लोन के मामले में ईडी ने यह कार्रवाई की है|

ईडी ने कुछ दिन पहले ही चंदा कोचर, उनके पति दीपक कोचर और वीडियोकॉन के प्रमोटर वेणुगोपाल धूत के खिलाफ प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (पीएमएलए) के तहत केस दर्ज किया था| साथ ही उनके ठिकानों पर छापेमारी भी की थी|

सीबीआई ने चंदा कोचर के खिलाफ जारी किया है लुकआउट नोटिस

जनवरी में सीबीआई ने भी इस मामले में चंदा कोचर, दीपक कोचर और वेणुगोपाल धूत के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी| केंद्रीय जांच एजेंसी ने वीडियोकॉन कंपनी के मुंबई और औरंगाबाद स्थित दफ्तरों और दीपक कोचर के ठिकानों पर छापे भी मारे थे| इतना ही नहीं, कुछ दिनों पहले सीबीआई ने चंदा कोचर के खिलाफ लुकआउट नोटिस भी जारी किया था।

क्‍या है वीडियोकॉन लोन मामला वीडियोकॉन ग्रुप को आईसीआईसीआई बैंक की ओर से 2012 में दिए गए 1,875 करोड़ रुपये के लोन और उसके न्यूपावर रिन्यूएबल्स के साथ लेन-देन से जुड़े मामले में सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय कार्रवाई कर रहे हैं| न्यूपावर चंदा के पति दीपक कोचर की कंपनी है| आरोप हैं कि धूत ने लोन के बदले दीपक की कंपनी में निवेश किया था, जिसकी जांच प्रवर्तन निदेशालय मनी लॉन्ड्रिंग के तहत कर रहा है|(हि स)।

Leave a Reply

Your email address will not be published.